close

dear new user, for login please click on facebook button.

Manali hotels will open from today आज से खुलेंगे मनाली के होटल

कोरोना के चलते पिछले करीब छह महीने से बंद पड़े मनाली के होटल गुरुवार से पर्यटकों के लिए खुलने जा रहे हैं। मनाली में दो हजार होटलों और होम स्टे में फिर से रौनक लौटेगी।  होटल खुलने से एक बार फिर कोठी, ग..

कोरोना के चलते पिछले करीब छह महीने से बंद पड़े मनाली के होटल गुरुवार से पर्यटकों के लिए खुलने जा रहे हैं। मनाली में दो हजार होटलों और होम स्टे में फिर से रौनक लौटेगी।  होटल खुलने से एक बार फिर कोठी, गुलाबा, सोलंगनाला और हिडिंबा माता सहित कई दर्शनीय स्थलों में पहले की तरह पर्यटक उमड़ते नजर आएंगे। कोरोना के चलते बेरोजगार बैठे सैकड़ों युवाओं को भी आजीविका चलाने का अवसर मिलेगा। इतना ही नहीं होटलों में चहल-पहल बढ़ने से सरकार के खजाने को लाखों रुपये का टैक्स, बिजली और पानी के चार्ज के रूप में मिलेगा। पर्यटकों की संख्या शुरू होने से बैंकों से लाखों रुपये का लोन लेकर बैठे टैक्सी चालकों को अब कमाई की उम्मीद जगी है। इतना ही नहीं सैलानियों के आने से रिवर राफ्टिंग और पैराग्लाडिंग करने वालों का कारोबार भी रफ्तार पकड़ेगा।

मनाली होटलियर एसोसिएशन के अध्यक्ष अनूप राम ठाकुर ने कहा कि पर्यटन नगरी मनाली में वीरवार से होटल खुल रहे हैं। लेकिन जिस तरह से देश-प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, इसको देखते हुए पर्यटकों के साथ कोरोना के आने का अंदेशा भी है। लिहाजा मनाली होटलियर एसोसिएशन ने मांग की है कि स्थानीय लोगों के हित में मनाली आने वाले सभी सैलानियों का कोरोना टेस्ट होना लाजमी है। कई स्थानों पर कोरोना का रैपिड टेस्ट हो रहा है, जिसकी रिपोर्ट आधे घंटे में ही आ जाती है। इसी तर्ज पर जिले के प्रवेश द्वार बजौरा या फिर पर्यटन नगरी मनाली में कोरोना के एंटी रैपिड टेस्ट की सहूलियत मुहैया करवाई जाए, जिससे निगेटिव सैलानी ही मनाली आ सके। अगर कोरोना टेस्ट की अनदेखी की जाती है तो आने वाले समय में कई तरह की परेशानियां पेश आ सकती हैं। 


Comments 0

No comments found